केरल के दर्शनीय स्थल- Kerala (God’s Own Country)

केरल भारत का ऐसा राज्य जो प्रकृतिक रूप से बहुत ही मनोरम है। यहा के Western Ghats के प्राकृतिक सौन्दर्य के आगे सभी सुंदरता नगण्य है। पर यहाँ हम बात करेंगे केरल के प्रमुख दर्शनीय स्थलो की जो आस्था के प्रमुख केंद्र है साथ ही साथ उनकी सुंदरता और भव्यता …

Read More

10 प्रमुख तीर्थ स्थलों की रेल यात्रा (दिल्ली से)

भारतवर्ष में यात्रा के लिए प्रायः लोग ट्रेनों का प्रयोग करते है। ट्रेन का सफर शुखदायक कम खर्चीला है और इसकी पहुँच लगभग देश के हर कोने में है। भारतीय रेल हर वर्ष कुछ नयी ट्रेने तीर्थ स्थलों के लिए आरंभ करती है। और इन्हे इस प्रकार से संचालन करती …

Read More

काशी, वाराणसी, बनारस: भारत की सांस्कृतिक राजधानी, मोक्ष नगरी

मान्यताओं के अनुसार वाराणसी का नाम विश्व के प्राचीनतम नगरों में आता है। इसे शिव और मोक्ष की नगरी के रूप में भी देखा जाता है। वरुणा और असि नामक नदियों के बीच बसे होने के कारण इसे वाराणसी के नाम से जाना जाता है। लोग यहाँ मरने की कामना …

Read More

तीर्थयात्रा: वानप्रस्थ आश्रम का आरंभ

संसार के सभी धर्मो में तीर्थ यात्रा का अपना महत्व है। लोग अपने इष्ट के अवतरण, उनके विचरण के स्थान इत्यादि पर जाते है और उसे तीर्थ यात्रा के रूप में मानते है। लोगो का मानना है तीर्थ यात्रा से हमे आत्मिक और मानसिक संतुष्टि प्राप्त होती है। सनातन धर्म …

Read More

यात्रा (अथातो घुमक्कड़ जिज्ञासा): दार्शनिक प्रासंगिकता

उपरोक्त शीर्षक में दी गई लाइन अथातो घुमक्कड़ जिज्ञासा महान दार्शनिक, लेखक राहुल सांकृत्यायन जी के एक निबंध से लिया गया इस निबंध को जब मैंने सर्वप्रथम पढ़ा था तब से ही मैंने इसे अपने जीवन शैली का एक अभिन्न अंग मान लिया। देखा जाये तो यह सही ही है …

Read More