किस्सा कहानी (Kissa Kahani): ज्ञानी व्यक्ति की मित्रता

किस्सा कहानी (Kissa Kahani): ज्ञानी व्यक्ति की मित्रता

एक समय की बात है एक गाँव मे निहाल नाम का एक साधारण व्यक्ति रहता था वो बहुत ही सीधा और शांत स्वभाव का व्यक्ति था उसमे किसी प्रकार का छल कपट नहीं था। उसकी पत्नी उसके सीधेपन के कारण उसको पसंद नहीं करती थी और किसी प्रकार उससे पीछा छुड़ाना चाहती थी। और गाँव…

महाभारत: श्री कृष्ण द्वारा कलियुग का वर्णन

महाभारत: श्री कृष्ण द्वारा कलियुग का वर्णन

श्री कृष्ण द्वारा कलियुग का वर्णन- बात उन दिनों की है जब पांडवों ने कौरवो के साथ चौपड़ खेला था और अपना सबकुछ उसमे गवा दिया। द्रौपदी का चीरहरण हुआ। और पांडवों को बारह वर्ष का वनवास और एक वर्ष का अज्ञातवास की सजा मिली। सबकुछ हारने के बाद पांडव वनवासी का वेश लेकर अपने…

महाभारत: कौरवों के जन्म की कथा

महाभारत: कौरवों के जन्म की कथा

कौरवों के जन्म की कथा- महाभारत एक ऐसा महाकाव्य है जिसमे हजारो छोटी छोटी कथाएँ जुड़ी हुई है। महाभारत की कहानिया कड़ियों के रूप में एक दूसरे से जुड़ी हुई है और वो एक महाकाव्य का निर्माण करती है। महाभारत हमे अपने जीवन के हर मार्ग से जुड़ी समस्याओं और कठिनाइयों को सुलझाने एवं नैतिक…

दुष्यंत और शकुंतला की प्रेम कथा

दुष्यंत और शकुंतला की प्रेम कथा

दुष्यंत और शकुंतला की प्रेम कथा- पुरुवंशी प्रतापी राजा दुष्यंत एक बार शिकार पर वन की तरफ गए। मृग का पीछा करते करते राजा दुष्यंत अपने सहयोगियों से बिछड़ गए। और प्यास से विचलित होकर एक आश्रम में पहुंचे। और जल हेतु एक बहुत ही सुंदर स्त्री को अनुरोध किया। ये आश्रम कण्व ऋषि का…

देवगुरु बृहस्पति पुत्र कच और संजीवनी विद्या

देवगुरु बृहस्पति पुत्र कच और संजीवनी विद्या

देवगुरु बृहस्पति पुत्र कच की कथा- असुरो के गुरु शुक्राचार्य ने अपने तप बल के जरिये देवाधिदेव शिव से संजीवनी विद्या प्राप्त की थी। जिसके कारण सुरासुर युद्ध में जब भी असुरों को शारीरिक क्षति होती थी गुरु शुक्राचार्य उन्हे पुनः स्वस्थ कर देते थे। जिसके कारण देवता परेशान होने लगे और असुरो से युद्ध…

हितोपदेश: आलसी ब्राह्मण की कहानी

हितोपदेश: आलसी ब्राह्मण की कहानी

आलसी ब्राह्मण की कहानी- एक समय की बात है। किसी गाँव में एक ब्राह्मण परिवार रहता था। वो परिवार बहुत ही खुशहाली में अपना जीवन बसर करता था। उनके पास सभी भौतिक संसदहन मौजूद थे। परिवार भी भरा पूरा था एवं परिवार में किसी प्रकार की कोई कमी नहीं थी। केवल उस परिवार का जो…

किताबों की दुनिया: किस्से कहानियों के परिपेक्ष्य में

किताबों की दुनिया: किस्से कहानियों के परिपेक्ष्य में

भले ही हम एक डिजिटल दुनिया में रह रहे हो, कितना ही हमारे लिए बहुत सारी विषय वस्तु मोबाइल, इंटरनेट इत्यादि पर मिल जाती हो। लेकिन फिर भी जो सुकून हमें किताबों में किस्से कहानियाँ (story book hindi) पढ़ने को मिलती है। वो कही और नहीं मिलती। अगर बात करे मोबाइल इंटरनेट से पहले के…