भगवान कहाँ हैं भगवान किस तरफ हैं और भगवान क्या कर सकते हैं – कथा प्रसंग

भगवान कहाँ हैं भगवान किस तरफ हैं और भगवान क्या कर सकते हैं – कथा प्रसंग

भगवान कहाँ हैं भगवान किस तरफ हैं और भगवान क्या कर सकते हैं – आज के शीर्षक से ही हम जान सकते है कि आज इस लेख के जरिये हम क्या बताने का प्रयास करेंगे। हम सब के मन में एक न एक बार अवश्य ये विचार आते ही है। और उस परम सत्ता को…

पांडवों की मृत्यु कैसे हुई और उनकी स्वर्ग यात्रा का वृतांत

पांडवों की मृत्यु कैसे हुई और उनकी स्वर्ग यात्रा का वृतांत

महाभारत एक महाकाव्य है और इसमे बहुत सारी कहानी और कथाओं का संग्रह है। इसी क्रम मे आज के प्रसंग मे हम जानेंगे कि पांडवों की मृत्यु कैसे हुई। तथा तथा उनकी मृत्यु से पहले कौन कौन सी घटनाएँ घटी। और उनकी स्वर्ग की यात्रा मे उनके साथ क्या हुआ। धर्मराज युधिष्ठिर की परीक्षा किसने…

भगवान श्री कृष्ण की मृत्यु का रहस्य और यदुवंश का नाश- कथा प्रसंग

भगवान श्री कृष्ण की मृत्यु का रहस्य और यदुवंश का नाश- कथा प्रसंग

हम सभी जानते है कि भगवान श्री कृष्ण स्वयं प्रभु हरि के अवतार स्वरूप थे। और जब इनका पृथ्वी पर आने का उद्द्येश्य पूरा हो जाता है तो इन्हे अपने अवतारी स्वरूप का त्याग कर अपने लोक मे वापस जाना होता है। तो आज हम जानेंगे कि भगवान श्री कृष्ण की मृत्यु का रहस्य क्या…

जब टूटा युधिष्ठिर का घमंड- युधिष्ठिर और नेवले की कहानी

जब टूटा युधिष्ठिर का घमंड- युधिष्ठिर और नेवले की कहानी

युधिष्ठिर और नेवले की कहानी- घमंड अहंकार ये ऐसा शब्द है जिसके वश मे होने के बाद अच्छे से अच्छा आदमी भले ही वो कितना भी बुद्धिमान ही क्यों न हो उसकी मति उसका साथ नहीं देती है। इसी संबंध मे आज हम कहानी सुनेंगे युधिष्ठिर और नेवेले की कहानी। जिससे हम जानेंगे कि जब…

जब कृष्ण पर लगा कलंक और हुआ त्रेतायुग के मित्र से युद्ध

जब कृष्ण पर लगा कलंक और हुआ त्रेतायुग के मित्र से युद्ध

जब कृष्ण पर लगा कलंक और हुआ त्रेतायुग के मित्र से युद्ध- भाद्रपद शुक्ल पक्ष की चतुर्थी तिथि को मान्यता है कि इस दिन अगर चंद्रमा को कोई देख लेता है तो उस पर कलंक लगता है। इसी के संबंध मे एक कथा बहुत ही ज्यादा प्रचलित है। जिसके अनुसार इस तिथि को चंद्रमा देख…

सनातन धर्म के महान दानवीर- कथा प्रसंग

सनातन धर्म के महान दानवीर- कथा प्रसंग

सनातन धर्म में या फिर भारतीय संस्कृति मे दान की महत्ता बहुत ही अधिक है। शुरू से ही हमे दान और धर्म के बारे मे बताया जाता है। और दान को सर्वोत्तम पुण्य की श्रेणी मे रखा जाता है। लेकिन दान के कई प्रकार होते है। एक दान होता है अपने लाभ का सोच कर…

ओरछा के रामराजा की अद्भुत कथा- महल मे विराजमान ओरछा के राजाराम

ओरछा के रामराजा की अद्भुत कथा- महल मे विराजमान ओरछा के राजाराम

ओरछा के रामराजा की अद्भुत कथा- महल मे विराजमान ओरछा के राजाराम- प्रभु श्री राम का नाम आते ही हम पावन नागरी अयोध्या के बारे मे सोचते है। लेकिन क्या आप जानते है कि मध्य प्रदेश राज्य के निवाड़ी (Niwari) जिले मे स्थित ओरछा (Orchha) नामक स्थान प्रभु श्री राम को लेकर बहुत प्रसिद्ध है।…

महर्षि विश्वामित्र (Vishvamitra): एक प्रतापी राजा से महर्षि बनने की कथा

महर्षि विश्वामित्र (Vishvamitra): एक प्रतापी राजा से महर्षि बनने की कथा

महर्षि विश्वामित्र (Vishvamitra) को हम सभी जानते है। क्योंकि रामायण की कथा से इनका संबंध है। इन्होने ही महाराज दशरथ से राम और लक्ष्मण की मांग की जो उनके आश्रम मे उनके यज्ञ पूजन की रक्षा करेंगे। और राम लक्ष्मण इनके साथ जाते है और राक्षसी ताड़का का वध करते है और मारिची नमक मायावी…

धन के देवता कुबेर (Kuber) का अभिमान नाश- कथा (Mythological Story)

धन के देवता कुबेर (Kuber) का अभिमान नाश- कथा (Mythological Story)

हम सभी जानते है कि धन और समृद्धि की देवी माता लक्ष्मी है। लेकिन धन के स्वामी या फिर धन के देवता के रूप में कुबेर देव (Kuber) की पुजा होती है। कई पौराणिक धार्मिक ग्रंथो मे कुबेर के जन्म से संबन्धित भिन्न भिन्न मत है। लेकिन रामायण के अनुसार, जो कि सनातन धर्म का…

गौ पूजन का महत्व- जाने क्यों होती है गाय की पूजा

गौ पूजन का महत्व- जाने क्यों होती है गाय की पूजा

सनातन धर्म मे गौ पूजन का बहुत महत्व है। गाय की सेवा उसका पूजन हमारे समाज में बहुत ही महत्वपूर्ण माना गया है। गोपाष्टमी को तो गौ पूजन का विशेष प्रचालन है। प्राचीन समय में हर घर में गौ पालन का कार्य अवश्य होता था। घर के बनने वाले बोजान मे पहली रोटी गाव को…