मन की मलिनता (Discordance of mind) ईश्वर साधना मे बाधक- प्रसंग

मन की मलिनता (Discordance of mind) ईश्वर साधना मे बाधक- प्रसंग

प्रतिदिन हम सुबह उठकर स्नान शौच इत्यादि के जरिये अपनी शारीरिक मलिनता को खत्म करते है। लेकिन मन की मलिनता (Discordance of mind) की सफाई करते है इसको लेकर शंशय होना स्वाभाविक है। केवल शारीरिक शुद्धि से हम ईश्वर साधना मे पूर्णता नहीं प्राप्त कर सकते है। बल्कि इसके लिए मानसिक शुद्धि अति आवश्यक तत्व…

मनोभाव (Thoughts) भी तय करते है आपका कर्मफल- एक प्रसंग

मनोभाव (Thoughts) भी तय करते है आपका कर्मफल- एक प्रसंग

कहते है हम जैसा सोचते है वैसा हमारे साथ होता है। लेकिन साथ ही साथ ऐसा भी है कि हम यदि कुछ करते हुए जैसा मनोभाव (Thoughts) रखते है, उसे के अनुरूप हमे कर्म फल प्राप्त होता है। भले ही हम कुछ अच्छा ही क्यों न कर रहे हो लेकिन यदि हमारे मन मे उसके…

पिता पुत्र (Father and Son) का उत्तराधिकार स्थानांतरण और कर्तव्य- प्राचीन परंपरा

पिता पुत्र (Father and Son) का उत्तराधिकार स्थानांतरण और कर्तव्य- प्राचीन परंपरा

आज के वर्तमान समय मे हम पिता और पुत्र (Father and Son) के मध्य होने वाले उत्तराधिकार के स्थानांतरण को बहुत ही सीमित रूप मे देखते है। आज के समय के अनुसार पिता की संपत्ति और संसाधनो पर एक समय के उपरांत पुत्र का अधिकार हो जाने को ही उत्तराधिकार स्थानांतरण के रूप मे देखते…

Boycott China और भारत की आत्म निर्भरता (Aatm Nirbhar Bharat)

Boycott China और भारत की आत्म निर्भरता (Aatm Nirbhar Bharat)

Corona महामारी के साथ और भी एक प्रमुख Topic जो कि आज कल सभी भारतीय के मन मस्तिष्क मे है। वो है China का उसके द्वारा India के साथ मतभेद। जबसे China और India के मध्य Gallowan Valley को लेकर मतभेद News मे सुनने को मिला है। तभी से Indian जन समूह द्वारा China Product…

Immunity Boost ही Corona प्रतिरोध के लिए आखिरी कदम

Immunity Boost ही Corona प्रतिरोध के लिए आखिरी कदम

Corona Virus का कहर पूरी दुनिया मे छाया हुआ है। और हम सभी देख रहे है की सभी प्रयास किसी न किसी रूप में विफल होते जा रहे है। चूंकि ये Virus बहुत ही नए किस्म का है। अतः सभी Researcher इसका तोड़ ढूँढने मे प्रयासरत होते हुए भी सफलता की तरफ नहीं पहुँच पा…

माँ (Mother): समस्त जीवों की प्रथम गुरु और पालनकर्ता

माँ (Mother): समस्त जीवों की प्रथम गुरु और पालनकर्ता

माँ, माता, मम्मी, मॉम, अम्मा, आई, Mother इत्यादि न जाने कितने नामों से पुकारा जाता है। लेकिन सबका अर्थ एक ही है। पालनकर्ता जो हमारे मन की बातों को जान सकती है। हमे खुश रखने के लिए कुछ भी कर सकती है। हमे जीना सिखाती है। हमे संसार का साक्षात्कार करती है। हर कदम पर…

दिखावे (Show off) की जिंदगी: उचित या अनुचित

दिखावे (Show off) की जिंदगी: उचित या अनुचित

Never judge a book by its cover ये कहावत हम सबने सुनी होगी जिसका शाब्दिक अर्थ है कि किसी पुस्तक की सार्थकता उसके आवरण के द्वारा नहीं तय की जानी चाहिए। जितना Popular ये कहावत है। इंसान की जिंदगी मे सही मायनो में इसका महत्व उतना ही कम है। हम सभी को दिखावे की जिंदगी…

कोरोना महामारी और जीवन शैली मे बदलाव

कोरोना महामारी और जीवन शैली मे बदलाव

सामाजिक परिवर्तन- Corona Virus के प्रभाव के कारण जो परिवर्तन समस्त विश्व मे देखने को मिलता है वो है हमारे सामाजिक जीवन मे बदलाव पिछले 1 से 2 महीने के मध्य जो बदलाव हम देख रहे है उसके बारे मे हमने कभी सोचा भी नहीं होगा। क्योंकि ऐसी जीवन शैली की हमने कभी कल्पना भी…

पार्टनर के प्रति अरुचि की भावना: कारण और उपाय

पार्टनर के प्रति अरुचि की भावना: कारण और उपाय

हमारे सभी लेख भारतीय संस्कृति और जीवनशैली के परिपेक्ष्य पर आधारित है। एवं उनकी विवेचना भारतीय संस्कृति पर आधारित है। आज बहुत सारी वैबसाइट के आधार पर हम देख रहे है कि भारतीय समाज में भी अपने पार्टनर के प्रति अरुचि की भावना है और उनमे कहीं न कहीं अन्य के प्रति लगाव दिखाई देता…

जीवन में दान पुण्य और मन्नत का महत्व

जीवन में दान पुण्य और मन्नत का महत्व

भारतीय समाजिक जीवन में दान पुण्य और मन्नत का बहुत ही महत्वपूर्ण स्थान है। हमारे देश में धर्म का अनुशरण करने वाला हर कोई प्रत्यक्ष एवं अप्रत्यक्ष दोनों रूपों में दान और मन्नत का कोई न कोई स्थान अवश्य है। हम अपने जीवन में सुख की कामना करते हुए दान करते है। एवं उसके बदले…