श्रावण मास में शिव आराधना से करें अपनी मनोकामना पूर्ति

श्रावण मास में शिव आराधना से करें अपनी मनोकामना पूर्ति

वर्षा ऋतु मे श्रावण मास पूर्ण रूप से भगवान शिव को समर्पित है। सभी सनातन धर्मी बड़े ही हर्षोल्लास के साथ इस सम्पूर्ण महीने में भगवान भोले नाथ की आराधना पूजा अर्चना करते है। देवाधिदेव शिव बहुत ही जल्दी प्रसन्न हो जाते है भक्त की समर्पण की भावना मात्र से इन्हे प्रसन्न किया जा सकता…

जिसे श्री राम मारना चाहते थे उसे हनुमान जी ने बचाया- कथा प्रसंग

जिसे श्री राम मारना चाहते थे उसे हनुमान जी ने बचाया- कथा प्रसंग

आज हम आप लोगो को रामायण की एक बहुत ही अनुपम कथा बताएँगे। जिसमे किस प्रकार भक्ति के द्वारा आप भगवान को जीत सकते है उसके बारे मे बताया गया है। सच्ची भक्ति और सत्या के साथ के द्वारा आप भगवान के क्रोध को भी शांत कर सकते है। और भगवान अपने भक्तों का कभी…

भगवान को भोग लगाने के क्या है नियम

भगवान को भोग लगाने के क्या है नियम

सनातन धर्म परंपरा मे ईश्वर आराधना के कई तरीके अथवा मार्ग बताए गए है। जिनमे तप, हवन, मंत्र, भक्ति और प्रेम इत्यादि कई मार्ग बताए गए है। जिनमे भक्ति और प्रेम मार्ग मे हम ईश्वर को अपने प्रीत मीट के रूप मे मानते है और उनकी सेवा भाव हम पूर्ण रूप से मानव दिनचर्या के…

विंध्य धाम तीर्थ स्थल- माता भगवती और विंध्य पर्वत की पौराणिकता

विंध्य धाम तीर्थ स्थल- माता भगवती और विंध्य पर्वत की पौराणिकता

उत्तर प्रदेश राज्य का मिर्जापुर जिला प्राकृतिक रूप से जितना समृद्ध है पौराणिक रूप से भी वो उतना ही महत्व रखता है। इसी मिर्जापुर जिले से विंध्याचल पर्वत की श्रेणियाँ गुजरती है और इसी पर्वत श्रेणी पर माता विंध्याचल का ऐतिहासिक और पौराणिक मंदिर स्थित है। गंगा नदी के तट पर बसा ये नगर और…

रथ यात्रा (Rath Yatra) विशेष: जगन्नाथ पुरी मंदिर के आश्चर्यजनक तथ्य

रथ यात्रा (Rath Yatra) विशेष: जगन्नाथ पुरी मंदिर के आश्चर्यजनक तथ्य

आदि शंकराचार्य ने सम्पूर्ण भारत के चार दिशाओं में चार धाम की स्थापना की उनमे से पूर्व दिशा में प्रभु जगन्नाथ धाम स्थित है। मान्यता है कि भगवान श्री कृष्ण की आराधना  जगन्नाथ  प्रभु के रूप में होती है। ओडिसा राज्य के पूरी जिले में समुद्र तट के निकट भगवान जगन्नाथ का मंदिर स्थापित है।…

जब हनुमान जी भूल गए अपनी शक्तियाँ- किस्सा कहानी

जब हनुमान जी भूल गए अपनी शक्तियाँ- किस्सा कहानी

हम सभी जानते है सनातन धर्म परंपरा मे भगवान हनुमान महा बलशाली और महा शक्ति शाली माने जाते है। और उनके बहुत सारे प्रसंग है जहां वो अपनी शक्तियों का प्रयोग करते है। चाहे बचपन मे सूर्य को अपने मुख मे रख लेना हो या फिर लंका का दहन की कथा अपनी शक्ति और बुद्धिबल…

जनसंख्या नियंत्रण कानून और आज की जीवन शैली- देर कर दी हुजूर आते आते

जनसंख्या नियंत्रण कानून और आज की जीवन शैली- देर कर दी हुजूर आते आते

अभी कुछ दिनों से जनसंख्या नियंत्रण कानून पर चर्चा चल रही है, उत्तर प्रदेश राज्य ने इस कानून को लागू भी कर दिया वहीं भारत सरकार भी इस कानून को अमली जामा फहनाने की प्रक्रिया कर रही है। इसके अंतर्गत 2 से अधिक बच्चे होने की सूरत मे कई प्रमुख सरकारी योजनाओं का लाभ उनको…

बच्चों को एक बार जरूर दिखाएँ ये क्लासिक हिन्दी फिल्में

बच्चों को एक बार जरूर दिखाएँ ये क्लासिक हिन्दी फिल्में

कहते है हर चीज से हम कुछ न कुछ सीख सकते है। आज के समय मे मनोरंजन का सबसे बड़ा साधन सिनेमा भी हमे बहुत कुछ सिखाता है। आज के इस महामारी काल मे बाहर जाकर मनोरंजन करना असुरक्षित हो सकता है। और सिनेमा ही एक ऐसा साधन बचा है तो घर के अंदर बंद…

चतुर्मास जब भगवान विष्णु शयन करते है- देवशयनी एकादशी

चतुर्मास जब भगवान विष्णु शयन करते है- देवशयनी एकादशी

आषाढ़ शुक्ल पक्ष एकादशी के दिन को हरिशयनी एकादशी या फिर देवशयनी एकादशी के रूप मे माना जाता है। वैसे तो वर्ष मे कुल 24 एकादशी होती है। लेकिन आषाढ़ मास शुक्ल पक्ष की एकादशी और कार्तिक मास शुक्ल पक्ष की एकादशी का महत्व बहुत अधिक है। इन्ही चार मास के अंतराल को चतुर्मास के…

कोरोना भी हम भारतीयों को कुछ न सिखा पायी

कोरोना भी हम भारतीयों को कुछ न सिखा पायी

कोरोना महामारी का असर इस धरती पर रहने वाले सभी जनों पर हुआ। इस महामारी के प्रकोप से कोई भी नही बच पाया फिर चाहे वो आर्थिक रूप से प्रभावित हुआ हो, शारीरिक या फिर मानसिक। इस महामारी ने हम सभी के जीवन शैली को बदल कर रख दिया। हमारा दैनिक जीवन पूरी तरह से…